Tuesday, August 16, 2022

केरल के वायनाड में राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ की उच्च स्तरीय जांच के निर्देश, कलपेट्टा का सब-इंस्पेक्टर सस्पेंड

Rahul Gandhi Office Vandalised HN/ केरल के वायनाड (Wayanad) से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के वायनाड स्थित कार्यालय में गुरुवार को तोड़फोड़ की वारदात को अंजाम दिया गया. भारतीय युवा कांग्रेस (Youth Congress) ने इस तोड़फोड़ का आरोप एसएफआई (SFI) के कार्यकर्ताओं पर लगाया है.

फिलहाल कार्यालय में तोड़फोड़ की वारदात के बाद केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि वह दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेंगे. जिसके बाद सरकार ने शुक्रवार रात को एडीजीपी पद के अधिकारी को उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं. वहीं जांच के पूरा होने तक कलपेट्टा के पुलिस सब इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है.

दिए गए उच्च स्तरीय जांच के आदेश

केरल के सीएमओ की ओर से जानकारी देते हुए बताया गया है कि राहुल गांधी के वायनाड कार्यालय तक मार्च निकाले जाने और उसके बाद हुई तोड़फोड़ की घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं. मामले में एडीजीपी पुलिस मुख्यालय को एक सप्ताह के अंदर जांच खत्म कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए गए हैं.

कलपेट्टा के सब-इंस्पेक्टर सस्पेंड

सीएमओ की ओर से जानकारी दी गई है कि कथिततौर पर निकले मार्च और फिर हुई तोड़फोड़ के दौरान इलाके के प्रभारी रहे कलपेट्टा के सब-इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है. फिलहाल राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी राज्यभर में कई जगह पर प्रदर्शन किया. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री पिनराई विजयन पर आरोप लगाया है कि केरल की सत्ताधारी दल माकपा की स्टुडेंट शाखा स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) का विरोध मार्च और राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ उनकी जानकारी में की गई है.

आठ लोग हुए गिरफ्तार 

वहीं पुलिस की ओर से जानकारी दी गई है कि राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ के मामले में करीब आठ लोगों को हिरासत में ले लिया गया है, वहीं इस दौरान हंगामा कर रहे कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव किया, जिसमें कलपेट्टा एसआई सहित कुछ पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं. इसी बीच कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता के. सी. वेणुगोपाल (KC Venugopal) ने कार्यालय में तोड़फोड़ को लेकर सीएम विजयन (Pinarayi Vijayan) पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि यह हमला उनकी जानकारी में किया गया है. उनका कहना है कि केंद्र की बीजेपी (BJP) सरकार से लड़ने के बजाए वह बफर जोन के मुद्दे पर कांग्रेस पर हमला करवा रहे हैं.

Similar Posts