Monday, January 17, 2022

ओमिक्रॉन: स्कीन-लिप्स और नाखून में दिखे ये लक्षण तो इन्हें हल्के में नहीं ले, जाँच जरुर करवाएं

नई दिल्ली:HN कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट के लक्षण अन्य वैरिएंट से भले ही हल्के हो, लेकिन हमे सतर्क तो रहना होगा तभी जाकर हम इस वायरस के प्रसार को रोक सकते हैं. वैसे तो इस वायरस के अलग-अलग लक्षण है. लेकिन आपको किसी भी प्रकार से लापरवाही नहीं बरतनी है. अगर आपकी स्कीन, लिप्स, नाखून में ब्लू रंग दिखें तो तुरंत आपको इलाज की जरूरत है. अमेरिका में स्थित सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (CDC) के स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो अगर आपकी स्कीन, होंठ और नाखून का रंग नीला-पीला और ग्रे दिखता है तो आपको लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए. सीडीएस ने चेतावनी देते हुए कहा कि ब्लू रंग का दिखना ये प्रदर्शित करता है कि आपका ऑक्सीन लेवल कम हो रहा है.

तुरंत करानी होगी जांच, गिरता है ऑक्सीजन लेवल

अमेरिकी स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने कहा कि अगर आपको ऐसे लक्षण दिखते हैं तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है. ऐसे लोगों को तुरंत डॉक्टर के पास जाना जाहिए और जांच करवानी चाहिए. हालांकि, इससे पहले भी ओमिक्रॉन के कई लक्षण सामने आए हैं. जैसे कि पीठ के निचले हिस्से में दर्द, कर्कश आवाज, रात को पसीना आना, मांसपेशियों में दर्द और नाक बहना. इस बीच ओमिक्रॉन के तीन प्रमुख लक्षणों में उच्च तापमान, निरंतर खांसी और स्वाद और गंध में परिवर्तन शामिल है. 

वैक्सीनेशन पर दिया जा रहा जोर

इसके साथ-साथ बार जोर दिया जा रहा है कि आप कोरोना की वैक्सीन लें क्योंकि इससे बचने के लिए वैक्सीनेशन बेहद महत्वपूर्ण है. इसके साथ ही बूस्टर वैक्सीन को भी इससे बचने के लिए महत्वपूर्ण तरीका बताया जा रहा है. अगर आप कभी भी अस्वस्थ महसूस करते हैं और इस प्रकार के लक्षण दिखते हैं तो तुरंत आपको टेस्ट करवाना चाहिए. बता दें देश-विदेश में इस वक्त ओमिक्रॉन के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, लेकिन राहत की बात यह है कि ऐसे मरीज घर पर ही ठीक हो रहे हैं. उन्हें डेल्टा वैरिएंट मरीजों के तरह अस्पतालों में भर्ती नहीं होना पड़ रहा है. यानी ये वायरस डेल्टा की तुलना में कमजोर है. हाईन्यूज़ !

Similar Posts

%d bloggers like this: